संन्यास तोड़ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी को तैयार ड्वेन ब्रावो, मैदान पर लौटने के लिए बेताब


वेस्टइंडीज क्रिकेट बोर्ड (सीडब्ल्यूआई) के साथ मतभेदों के कारण खेल को अलविदा कहने वाले ऑलराउंडर ड्वेन ब्रावो ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी का एलान कर दिया। ब्रावो ने कहा कि सीडब्ल्यूआई की सत्ता में बदलाव के कारण उन्होंने मन बदला है। पूर्व टीम मैनेजर रिकी स्केरिट अब डेव कैमरन की जगह बोर्ड के नए अध्यक्ष बने हैं।



ब्रावो ने कहा कि आज मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की घोषणा करता हूं। मैंने यह फैसला प्रशासनिक स्तर पर बोर्ड में हुए बदलाव के बाद लिया है। मैं कुछ समय से इस बारे में सोच रहा था और सकारात्मक बदलावों ने मेरे फैसले को मजबूत किया।



36 वर्षीय ब्रावो का कैमरन के साथ झगड़ा हुआ था जिन पर उन्होंने करियर को तबाह करने का आरोप लगाया था। यह 2014 में हुआ था जब ब्रावो की अगुआई वाली वेस्टइंडीज टीम बोर्ड के साथ भुगतान विवाद के कारण भारत दौरा बीच में छोड़कर चली गई थी।



ब्रावो ने वेस्टइंडीज के लिए 40 टेस्ट, 164 वनडे और 66 टी-20 में 6310 रन बनाने के साथ ही 337 विकेट भी चटकाए हैं। वह चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए आईपीएल खेलते हैं। इसके अलावा पीएसएल, बिग बैश लीग, कैरेबियाई प्रीमियर लीग, कनाडा लीग और अबुधाबी टी10 लीग भी खेले ।


कोच और कप्तान की तारीफ की

कोच और कप्तान की तारीफ करते हुए ब्रावो ने कहा, 'टीम के वर्तमान कोच फिल सिमंस और कप्तान कीरोन पोलार्ड के नेतृत्व में वापसी करने और कुछ बेहद खास करने का मौका पाने के लिए मैं बेहद उत्साहित हूं। मुझे भरोसा है कि मैं भी सकारात्मक बदलाव का हिस्सा बन सकता हूं। हमारे पास जितनी शक्तिशाली टीम है, उससे हम निश्चित रूप से टीम का पुनर्निमाण कर सकते हैं। हमारी रैंकिंग को सुधार सकते हैं। अगर टी-20 टीम के लिए मेरा चयन होता है तो मैं पूरी तरह विंडीज टी-20 टीम के प्रति प्रतिबद्ध रहूंगा। लगातार समर्थन करने के लिए मेरे सभी फैंस और समर्थकों को मेरी ओर से धन्यवाद।'


बोर्ड अध्यक्ष पर करियर बर्बाद करने का आरोप लगाया था

साल 2014 में क्रिकेट बोर्ड के साथ हुए भुगतान विवाद के बाद ब्रावो की कप्तानी वाली वेस्ट इंडीज की टीम भारत दौरा अधूरा छोड़कर वापस चली गई थी। इसके बाद संबंधों में आई कड़वाहट के बाद ब्रावो ने तत्कालीन बोर्ड अध्यक्ष डेव कैमरन पर अपना करियर बर्बाद करने का आरोप लगाते हुए खेल से संन्यास ले लिया था। हालांकि मार्च 2019 में रिकी स्केरिट के बोर्ड अध्यक्ष बनने के बाद तथा कोच और कप्तान के बदलने के बाद ब्रावो ने अपना फैसला बदल लिया।


तीन साल से नहीं खेला अंतरराष्ट्रीय मैच

ब्रावो ने सितंबर 2016 के बाद से कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला था। उन्होंने टीम के लिए आखिरी मैच सितंबर 2016 में टी-20 में पाकिस्तान के खिलाफ खेला था। ब्रावो ने अपने इंटरनेशनल करियर में विंडीज की टीम के लिए 40 टेस्ट, 164 वनडे और 66 टी20 मैच खेले हैं। तीनों फॉर्मेट को मिलाकर उन्होंने कुल 6310 रन बनाए हैं और 337 विकेट भी लिए हैं। इनमें से 1142 रन उन्होंने टी20 फॉर्मेट में बनाए हैं, साथ ही इस फॉर्मेट में उनके नाम पर 42 विकेट भी लिए हैं।

2 views0 comments
No tags yet.

Subscribe Our Letter

  • White Facebook Icon

© 2019 all right reserved Hind Daily . Proudly powered by Hind Classes