मौसमी चटर्जी की बेटी पायल का 45 वर्ष की आयु में निधन, डायबिटीज से थीं पीड़ित



दिग्गज फिल्म एक्ट्रेस मौसमी चटर्जी की बेटी पायल का एक लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। वह बचपन से ही टाइप-1 डायबिटीज से पीड़ित थीं, जो जानलेवा साबित हुआ। पायल 2018 से ही कॉमाटोज के कारण बिस्तर पर थीं। 2017 से ही पायल का अस्पतालों में आना-जाना लगा हुआ था। पायल का निधन 45 वर्ष की आयु में हुआ है।


पायल ने 2010 में डिकी सिन्हा नाम के बिजनेसमैन से शादी कर ली थी। उन्हें अप्रैल 2018 में कोमा के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था और फिर ठीक होने के बाद वह अपने पति के साथ घर लौट आई थीं। हालांकि, कुछ महीनों बाद मौसमी चटर्जी और उनके पति जयंत मुखर्जी बेटी पायल के पति डिकी सिन्हा के बीच काफी लड़ाई हुई थी, जिसमें बेटी पायल की मेडिकल ज़रूरतों की उपेक्षा की बात कही गयी थी।

खबरों के अनुसार, मौसमी चटर्जी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में अपनी याचिका में आरोप लगाया था कि पायल के पति ने कथित तौर पर उनका फिजियोथेरेपी उपचार रोक दिया और पायल के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए नियुक्त किए गए कर्मचारियों का बकाया भी नहीं दिया और उन्हें हटा दिया है।


याचिका में यह भी दावा किया गया है कि उन्होंने पायल को अस्पताल द्वारा सुझाया गया खान-पान भी नहीं दिया। मौसमी चटर्जी ने दावा किया कि उन्हें बेटी के मेडिकल पेपर और गार्डियन नियुक्त करने के अधिकार से भी वंचित कर दिया। उन्होंने चिकित्सा देखभाल के दौरान पायल से मिलने देने से भी इनकार कर दिया।


मौसमी ने अदालत से अनुरोध किया था कि उन्हें पायल के अभिभावक के रूप में नियुक्त किया जाए, ताकि वह उनकी देखभाल कर सकें। उनके निधन की खबर सुनकर, अभिनेता तुषार कपूर ने दुख जताते हुए परिवार के प्रति ट्विटर पर संवेदना जताई।



2 views0 comments
No tags yet.