कश्मीर पर बौखलाया पाक, PoK के राष्ट्रपति ने भारत को दी युद्ध की धमकी

कश्मीर पर बौखलाया पाक के PoK के राष्ट्रपति बोले युद्ध से लेंगे कश्मीर

जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान की तरफ से बेतुके बयान लगातार आ रहे है। भारत को धमकी देने वालों में अब पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) के 'राष्ट्रपति' सरदार मसूद खान भी शामिल हो गए हैं। कश्मीर मुद्दे पर गीदड़भभकी देते हुए सरदार मसूद खान ने कहा कि अब कश्मीर को आजाद कराने का एक मात्र विकल्प युद्ध ही रह गया है।

सरदार मसूद खान के मुताबिक धारा 370 हट जाने के बाद और अंतर्राष्ट्रीय मंच पर मुँह की खाने के बाद पाकिस्तान के पास जम्मू-कश्मीर को 'भारत से आजाद' कराने के लिए जंग के सिवाय कोई और रास्ता नहीं है। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के मीरपुर में पाकिस्तान इंस्टीट्यूट फॉर कन्फ्लिक्ट एंड सिक्योरिटी स्टडीज के कांन्फ्रेंस में मसूद ने कहा, "जम्मू-कश्मीर को भारत से आजाद कराने के लिए जंग अपरिहार्य हो गई है। पूरा राष्ट्र बहादुर पाकिस्तानी सेना के साथ कंधे से कंधा मिलाकर इस जंग को लड़ेगा।

मसूद खाने यहीं नहीं रुके और कहा कि ऐसी किसी जंग से पहले हमें एकता बनानी होगी और पाकिस्तान को आर्थिक और रक्षा मामलों में मजबूत करना होगा।" उन्होंने कहा, "इस जंग को जीतने के लिए हमें दुश्मन की योजनाओं और रणनीतियों को पूरी तरह से समझना होगा।"

सरदार मसूद खान ने कहा कि पांच अगस्त को भारत सरकार के जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए कर 'कश्मीर के साथ-साथ आजाद कश्मीर (पीओके) पर भी हमला' किया है। उन्होंने कहा कि तभी से भारत लगातार 'आजाद कश्मीर' पर हमला कर उस पर कब्जा करने की धमकियां दे रहा है।

साथ ही उन्होंने इस बात को गलत बताया कि पांच अगस्त के बाद कश्मीर मुद्दे को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ठीक से नहीं उठाया गया। उन्होंने कहा कि कश्मीर के पक्ष में जोरदार आवाजें उठाई गई हैं। उन्होंने पीओके और गिलगित-बाल्टिस्तान को पाकिस्तान के किले की दीवार बताया और कहा कि 'इन इलाकों के लोग दुश्मन को इस दीवार को पार नहीं करने देंगे।'

बता दें कि इससे पहले इमरान खान भी धारा 370 हटाए जाने के बाद से ऐसी गीदड़भभकी भारत को दे चुके हैं। पीटीआई सरकार में रेल मंत्री शेख रशीद ने इमरान खान से एक कदम आगे बढ़ते हुए कहा था कि पाकिस्तान एक-एक पाव के भी परमाणु बम बना रखे हैं जिसे समय आने पर भारत के खिलाफ इस्तेमाल किया जा सकता है।

7 views0 comments
No tags yet.

Subscribe Our Letter

  • White Facebook Icon

© 2019 all right reserved Hind Daily . Proudly powered by Hind Classes